सम्पादकीय मुख्य समाचार खेल समाचार क्षेत्रीय  समाज विज्ञापन दें अख़बार  डाऊनलोड करें
ऑनलाइन पढ़ें व्यापार  अंतरराष्ट्रीय  राजनीति कही-सुनी ब्यंग राशिफल
लाइफस्टाइल शिक्षा खाना - खजाना हिंदुस्तान की सैर फ़िल्मी रंग बताते आपका स्वभाव
| DAINIK INDIA DARPAN LIVE NEWS |MOTHER INDIA MONTHLY HINDI MAGAZINE | GIL ONLINE LIVE NEWS | DID TV POLITICAL, CRIME ,SOCIAL, ENTERTAINMENT VIDEOS| ... 
  • दिनांक
  • महिना
  • वर्ष

एमपी के पूर्व वित्‍त मंत्री राघवजी पर आरोपों की झड़ी, नए लड़कों का शौक, महिलाओं से भी रिश्‍ते
सेक्‍स स्‍कैंडल में फंसने के बाद मध्‍य प्रदेश के वित्‍त मंत्री पद से इस्‍तीफा देने वाले राघव जी को बीजेपी से भी निकाल दिया गया। राघव जी को उनके जन्‍मदिन के दिन ही पार्टी से निकाला गया। माना जा रहा है कि पद से इस्‍तीफा देने और पार्टी से निकाले जाने के बाद अब राघवजी की गिरफ्तारी जल्‍द हो सकती है। दूसरी ओर लापता युवक राजकुमार दांगी ने मीडिया के सामने आकर राघवजी की मुश्किल और बढ़ा दी है। उसने आरोप लगाया है कि राघवजी के कई महिलाओं से भी संबंध थे। युवक ने उनके निवास पर कार्यरत एक कर्मचारी की पत्नी का जिक्र करते हुए कहा कि राघवजी के उससे पंद्रह साल से रिश्ते हैं। राजकुमार ने नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह के निवास पर मीडिया से चर्चा में यह भी कहा कि राघवजी पिछले तीन साल से उसका यौन शोषण कर रहे थे। हर बार लालच देते थे कि तुम शादी कर लो और लड़कियों से दोस्ती करो। इस सब के लिए राघवजी खर्चा उठाने की भी बात करते थे। उसने आरोप लगाया कि राघवजी के यहां काम करने वाले शेर सिंह और उसके साले सुरेश ने भी उसका यौन शोषण किया। ये दोनों उसे जान से मारने की धमकी देते थे। युवक ने कहा कि राघवजी ने उसे पीएससी में पास कराने का लालच दिया था। सेक्‍स स्‍कैंडल में फंसे राघव जी को बीजेपी ने पार्टी से भी निकाल दिया है। बीजेपी की मध्य प्रदेश इकाई के अध्यक्ष नरेंद्र सिंह तोमर ने राघवजी को पार्टी से निष्कासित करने के संबंध में घोषणा की। तोमर ने बताया कि राघवजी की पार्टी की प्राथमिक सदस्यता समाप्त कर दी गई है। नए लड़कों से संबंध बनाना राघवजी का शौक रहा है, उनके महिलाओं से भी संबंध रहे हैं। हबीबगंज थाने में दुष्‍कर्म की शिकायत दर्ज कराने के बाद लापता हुआ राजकुमार रविवार को विधानसभा में नेता विपक्ष अजय सिंह के आवास पर पत्रकारों के सामने आया और उसने आरोप लगाया कि राघवजी के अलावा उनके आवास पर काम करने वाले दो कर्मचारी शेरसिंह चौहान व उसके साले सुरेंद्र ने भी उसके साथ कुकृत्य किया। उसने बताया कि उसकी जान को खतरा है, इसलिए वह नेता विपक्ष अजय सिंह से मदद मांगने आया है। राजकुमार का आरोप है कि राघवजी उसे लगातार नौकरी का प्रलोभन देते रहे। वह अपनी कारगुजारियों को उजागर न करने की चेतावनी देते हुए उसे जान से मारने की धमकी देते थे। यही कारण रहा कि वह चाहकर भी राघवजी के कारनामे उजागर नहीं कर पाया, जबकि यह सिलसिला लगभग साढ़े तीन साल तक चला।



Share This -->

 


 





फोटो गैलरी                       More..
              

     

Video                                More..

https://www.youtube.com/watch?v=jzRWPYTTyac