सम्पादकीय मुख्य समाचार खेल समाचार क्षेत्रीय  समाज विज्ञापन दें अख़बार  डाऊनलोड करें
ऑनलाइन पढ़ें व्यापार  अंतरराष्ट्रीय  राजनीति कही-सुनी ब्यंग राशिफल
लाइफस्टाइल शिक्षा खाना - खजाना हिंदुस्तान की सैर फ़िल्मी
| DAINIK INDIA DARPAN LIVE NEWS |MOTHER INDIA MONTHLY HINDI MAGAZINE | GIL ONLINE LIVE NEWS | DID TV POLITICAL, CRIME ,SOCIAL, ENTERTAINMENT VIDEOS| ... 
  • दिनांक
  • महिना
  • वर्ष
... बिंद्रा को स्वर्ण, मलाइका को रजत, भारत के 10 पदक भारत के दिग्गज निशानेबाज अभिनव बिंद्रा ने 10 मीटर एयर राइफल व्यक्तिगत स्पर्धा में स्वर्ण पदक के साथ राष्ट्रमंडल खेलों को अलविदा कहा जबकि स्कूली छात्रा मलाइका गोयल ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में रजत पदक जीता। पहले दिन सात पदक जीतकर शानदार शुरुआत करने वाला भारत दूसरे दिन केवल तीन पदक जीत पाया जिसमें एक स्वर्ण, एक रजत और एक कांस्य पदक शामिल है। निशानेबाजी में दो पदक जीतने के अलावा भारत ने एक पदक भारोत्तोलन में जीता जब महिला 53 किग्रा वर्ग में 20 वर्षीय संतोषी मात्सा ने कांस्य पदक हासिल किया। भारत फिलहाल तीन स्वर्ण, चार रजत और तीन कांस्य पदक सहित कुल 10 पदक जीतकर इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया, स्कॉटलैंड और कनाडा के बाद पांचवें स्थान पर चल रहा है। दिन का आकर्षण बिंद्रा रहे। राष्ट्रमंडल खेलों में पिछले चार प्रयासों में 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा का व्यक्तिगत स्वर्ण जीतने में नाकाम रहे बिंद्रा ने आज आखिकार यह उपलब्धि हासिल कर ली। राष्ट्रमंडल खेलों में युगल वर्ग में तीन स्वर्ण सहित कुल नौ पदक जीत चुके बिंद्रा ने फाइनल राउंड में शानदार प्रदर्शन किया और कोई चूक नहीं की। वह बैरी बुडोन शूटिंग सेंटर में चल रही स्पर्धा के क्वालीफिकेशन में तीसरे स्थान पर रहे थे। ओलंपिक में व्यक्तिगत स्वर्ण पदक जीतने वाले एकमात्र भारतीय बिंद्रा ने कुल 205.3 अंक बनाए जो खेलों का नया रिकॉर्ड भी है। बिंद्रा ने स्पर्धा के बाद भारतीय पत्रकारों से कहा, यह मेरे अंतिम राष्ट्रमंडल खेल हैं। पांच राष्ट्रमंडल खेल और नौ पदक मेरे लिए पर्याप्त हैं। उन्होंने कहा कि यह पदक शानदार है क्योंकि मैंने कड़ी मेहनत की थी और मुझे खुशी है कि मैं यह लक्ष्य हासिल करने में सफल रहा। मुझे वांछित नतीजा मिला। यह पूछने पर कि क्या रियो 2016 उनके अंतिम ओलंपिक होंगे, बिंद्रा ने कहा, मैं एक बार में एक चीज पर ध्यान देता हूं। मैं बाद में फैसला करूंगा। इससे पहले सोलह वर्षीय मलाइका ने भारत को निशानेबाजी में पहला पदक दिलाया। उन्होंने महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल में 197.1 अंक के साथ रजत पदक जीता लेकिन प्रबल दावेदार मानी जा रही हीना सिद्धू को सातवें स्थान से संतोष करना पड़ा। भारोत्तोलन में आंध्र प्रदेश की संतोषी महिला 53 किग्रा वर्ग में कांस्य पदक जीतने में सफल रहीं। यह भारोत्तोलन में भारत का पांचावां पदक है। इससे पहले कल भारत ने भारोत्तोलन में दो स्वर्ण, एक रजत और एक कांस्य पदक जीता था। रुस्तम सारंग ने हालांकि पुरुषों के 62 किग्रा वर्ग में निराश किया और वह शीर्ष पांच में भी जगह नहीं बना सके। संतोषी ने कुल 188 किग्रा वजन उठाया। उन्होंने स्नैच में 83 जबकि क्लीन एवं जर्क में 105 किग्रा वजन उठाया। इस स्पर्धा का स्वर्ण नाईजीरिया की 16 वर्षीय स्कूली छात्र चिका अमालाहा के नाम रहा जिन्होंने कुल 196 किग्रा (85 और 111 किग्रा) वजन उठाया। पपुआ न्यू गिनी की अनुभवी डिका तोआ ने रजत पदक हासिल किया। दो बच्चों की मां डिका ने कुल 193 किग्रा (82 और 111 किग्रा) वजन उठाया। स्नैच स्पर्धा की समाप्ति के बाद तीसरे स्थान पर चल रही भारत की स्वाति सिंह ने 183 किग्रा वजन उठाकर चौथा स्थान हासिल किया। स्वाति दूसरी बार पदक से चूकी है। पिछले राष्ट्रमंडल खेलों में भी वह चौथे स्थान पर रहीं थी। भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने पूल-ए के मैच में वेल्स की कमजोर टीम को 3-1 से हराया लेकिन इसके लिये उन्हें काफी पसीना बहाना पड़ा। विश्व रैंकिंग में नौवें स्थान पर काबिज भारत को वेल्स के डिफेंस में सेंध मारने के लिये काफी मेहनत करनी पड़ी। भारत के लिये वी आर रघुनाथ (20वां मिनट) और रुपिंदर पाल सिंह (42वां मिनट) ने गोल किये जबकि टीम में वापसी करने वाले गुरविंदर सिंह चांडी ने 47वें मिनट में मैदानी गोल दागा। वेल्स के लिये एकमात्र गोल एंड्रयू कोर्निक ने 23वें मिनट में किया। ... |कुछ और भी:




फोटो गैलरी                       More..
     

     

Video                                More..